Latest 342+ Zindagi Shayari in Hindi 2023 | ज़िंदगी शायरी हिंदी में

खुद को सुधारिये !!
ज़माना सुधरता नज़र आएगा !!

खुदा से ज़माने को माँगा तो क्या किया !!
खुदा से खुदा को माँगा होता तो बेहतर होता !!

Zindagi shayari,
Zindagi shayari in hindi,
Zindgi shayari,
Jindgi shayari,
Jindgi ki shayari,
Zindagi par shayari,
Zindagi in hindi,
Shayari zindagi,
Zindagi urdu shayari in hindi,
Jindagi in hindi,
Zindagi kya hai shayari,

अपने बस ये लोग नज़र आ रहे है !!
बाकि है तो असल में पराये !!

आपके रास्ते में कितने ही पत्थर फ़िके !!
उन्हें ठोकर मार आपको अपना रास्ता बनाना है

दिल से प्रशंसा,दिमाग से हस्तक्षेप और !!
विवेक से प्रतिक्रिया देने में ही समझदारी है !!

जब यहाँ किसी का कुछ है ही नहीं !!
फिर खामखा हम चिंता को अपना बना रहे है !!

यहाँ ज़िंदा कोई नहीं बचता !!
फिर भी आप ज़िंदगी मर-मर के जी रहे है !!

दूर तक जाना पड़ेगा !!
तब जाके कही भगवान का दरबार मिलेगा !!

आप अपनी ज़िंदगी जी भर जी ले !!
क्यूंकि ज़रूरतों को इसे खत्म करना बखूबी आता है !!

तेरे मन में ही तो भगवान है !!
फिर तू इसे कहा ढूंढे ऐ-इंसान है !!

हज़ार आँखे है खुदा की !!
ऐ-बन्दे तू कौन-सी आँख से बचेगा !!

कभी कभी हम अनजाने में वक्त पर पाँव रख देते है !!
इसीलिए ज़िंदगी मुहं के बल गिर जाती है !!

बातें मैं भी आम ही करता हूँ !!
बस समझने वाले इसे खास बना देते हैं !!

खुद के मन को तलाश लिया होता !!
खुदा को फिर बाहर ना ढूँढना होता !!

ज़िंदगी के रंग बदलते नज़र आएँगे !!
रब के रंग में रम जाओ ये रंग कभी नहीं जाएंगे

बुरा नहीं है !!
तन्हाई महसूस करना बेकार है !!

जो लोग आपको आपसे छीन लेते है !!
ना जाने आप क्यू उन्हें मौका देते है !!

कुछ प्यार शरीर पाता है !!
कुछ शरीर प्यार की तलाश करते हैं !!

मुझे नहीं पता कि मैं कैसा हूँ !!
पर हाँ मैं अभी ज़िंदा हूँ !!

प्यार में लोग बदल जाते हैं !!
उन्हें दी गई यादें ही रह जाती हैं !!

जिसे तुम सबसे ज्यादा प्यार करते हो !!
वह दिन आपके दुख का कारण बनेगा !!

उस आदमी की चिंता मत करो !!
जिसने तुम्हें बीच में अकेला छोड़ दिया !!
क्योंकि वह कभी तुम्हारे साथ नहीं रहा !!

यदि आप आज जीतते हैं !!
तो कार्य करें और मैंने विश्वास खो दिया !!

मुँह तो लोग ऐसे फेरते है !!
जैसे वो कितने सही थे !!

हर वक़्त हँसा करो !!
चाहे वक़्त कैसा भी हो !!मन में उठे विचारो को हराइये !!
ज़िंदगी ना जीत जाए तो कह देना !!

यूँ तो ए ज़िन्दगी तेरे सफर से शिकायतें बहुत थी !!
मगर दर्द जब दर्ज कराने पहुँचे तो कतारें बहुत थी !!

होंठ खामोश है दिल भी उदास है !!
मुद्दतों से जैसे जिंदगी लापता हो !!

जो कट जाती है उसे उम्र कहते हैं !!
और जिसे जीते हैं उसे जिंदगी कहते हैं !!

 Yaari Shayari In Hindi 2 lines | सच्ची यारी शायरी

अपनी ज़िंदगी परखने के लिए नहीं !!
समझने के लिए खर्च करो !!

तू बहुत खूबसूरत है जिंदगी !!
दाग़ तो जीने के तरीक़ो में आ जाता है !!

तमाम उलझनों के साथ रहते है !!
कौन कहता है हम अकेले रहते है !!

कुछ कटी हिम्मत-ए-सवाल मे उम्र !!
कुछ उम्मीद-ए-जवाब में गुज़री !!

गैरों ने तो ग़ैर जानकर पत्थर मारे !!
और अपनों ने तो पहचान के पत्थर मारे !!

दुनिया धोखा देकर अक्लमंद हो गई !!
और हम भरोसा करके गुनहगार हो गए !!

आज भी हर समस्या का अंतिम हल !!
माफ़ी ही है कर दो या माँग लो !!

पूछा हाल शहर का तो सर झुका के बोले !!
लोग तो जिंदा है ज़मीरों का पता नहीं !!

अहसान दोनों का ही था मकान पर !!
छत ने जता दिया और नींव ने छुपा लिया !!

बड़े महंगे किरदार हैं जिंदगी में जनाब !!
वक़्त वक़्त पर सबके भाव बढ़ जाते हैं !!

Father’s Day Quotes In Hindi | पिता के लिए अनमोल वचन

एक और ईंट गिर गई दीवार-ए-जिंदगी से !!
नादान कह रहे हैं नया साल मुबारक हो !!

एक ही समानता है पतंग औऱ जिंदगी मे !!
ऊँचाई में हो तब तक ही वाह वाह होती है !!

सीख नहीं पा रहा हूँ मीठे झूठ बोलने का हुनर !!
कड़वे सच से हमसे न जाने कितने लोग रूठ गये !!

कदर वो है जो मौजूदगी में हो !!
बाद में होने वाले को पछतावा कहते हैं !!

अपेक्षा अपने आप से रखो !!
किसी और से नहीं !!

वक्त तजुर्बा तो देता है पर !!
मासूमियत छीन लेता है !!

मनुष्य अपने विश्वास से निर्मित होता है !!
जैसा वो विश्वास करता है वैसा वो बन जाता है !!

वक्त से पहले मिली चीजें अपना मूल्य खो देती हैं !!
और वक्त के बाद मिली अपना महत्व !!

बस इतनी सी बात समंदर को खल गई !!
एक काग़ज़ की नाव मुझ पर कैसे चल गई !!

जितने दिन तक जी गई बस उतनी ही है लाइफ !!
मिट्टी के गुलकों की कोई उम्र नहीं होती !!

वक्त ,विश्वास और इज्जत ऐसे परिंदे हैं !!
जो उड़ जाये तो वापस नहीं आते !!

लिखने वाले ने क्या खूब लिखा है !!
ज़िन्दगी जब मायूस होती है तभी तो महसूस होती है !!

हमारे साथ रहने दो ,उजाले अपनी यादों के
न जाने किस गली में ज़िन्दगी की शाम हो जाये !!

याद रहेगा ये दौर-ए-हयात हमको !!
कि तरसे थे ज़िंदगी में ज़िंदगी के लिए !!

अजीब तरह से गुजर गयी मेरी भी ज़िन्दगी !!
सोचा कुछ ,किया कुछ,हुआ कुछ,मिला कुछ !!

दुनिया में सबसे कीमती गहना हमारा ‘परिश्रम’ है !!
और जिंदगी में सबसे अच्छा साथी हमारा ‘आत्मविश्वास’ है !!

Dhoka Shayari In Hindi | धोखा शायरी हिंदी

समंदर न सही पर एक नदी तो होनी चाहिए !!
तेरे शहर में ज़िंदगी कहीं तो होनी चाहिए !!

यूं देखो इस जहान में जर्रे जर्रे में इश्क दिखता है !!
गुस्ताखियाँ यह हमारी हैं जो हमे रश्क दिखता है !!

एक ही समानता है पतंग औऱ जिंदगी मे !!
ऊँचाई में हो तब तक ही वाह वाह होती है !!

जिंदगी अगर अपने हिसाब से जीनी हैं !!
तो कभी किसी के फैन मत बनो !!

अब कटेगी ज़िन्दगी सुकून से !!
अब हम भी मतलबी हो गए हैं !!

हजारों उलझनें राहों में और कोशिशें बेहिसाब !!
इसी का नाम है ज़िन्दगी चलते रहिये जनाब !!

दिल से प्रशंसा,दिमाग से हस्तक्षेप और !!
विवेक से प्रतिक्रिया देने में ही समझदारी है !!

किसान की भी क्या दुविधा छत टपकी है !!
उसकी फिर भी बारिश की दुआ करता है !!

अक्सर जिद्दी ही हासिल करते है !!
जो उनके मुकद्दर में नहीं लिखा होता !!

घमंड में मत रहिए,अर्श से फर्श तक !!
आने में ,वक़्त भी नहीं लगता !!

सच्ची दोस्ती के रंग बड़े पक्के होते है !!
ज़िन्दगी की धूप में भी उड़ा नहीं करते !!

ये जिंदगी है जनाब !!
जीना सिखाये बगैर मरने नहीं देती !!

यदि आपके पास जो कुछ है उससे आप संतुष्ट हो !!
और खुश हो तो आप बहुत अमीर हो !!

जीत लेते हैं हम मोहब्बत से गैरों का भी दिल !!
पर ये हुनर जाने क्यों अपनों पर चलता ही नहीं !!

बड़प्पन वह गुण है !!
जो पद से नहीं संस्कारों से प्राप्त होता है !!

यदि मन में बैर है !!
तो मंदिर मस्जिद गुरुद्वारा जाना !!
सिर्फ एक सैर है !!

Sister Day Shayari In Hindi | बहन पर बेहतरीन शायरी

आपका रुतबा ऐसा हो !!
कि ना आप किसी को दबाए !!
और ना कोई आपको दबा पाए !!

ना सुख जिंदगी,ना दुःख जिंदगी !!
ना गम जिंदगी ,ना ख़ुशी जिंदगी !!
अपने-अपने कर्मों का हिसाब है जिंदगी !!

चाहे सारी दुनिया तुम्हे बोलने लगे की तुम हारनेवाले हो !!
तुम हार गए लेकिन तुम तब तक नहीं हार सकते !!
जब तक तुम खुद हार मान न लो !!

ज़िंदगी और Swimming में एक !!
चीज Common है तैर गए तो पार !!
नहीं तो बीच मझदार !!

सच कहा है किसी ने !!
जितनी भीड़ बढ़ रही है ज़माने में !!
लोग उतने ही अकेले होते जा रहे हैं !!

झूठ भी कितना अजीब है !!
खुद बोलो तो अच्छा लगता है !!
दूसरे बोले तो गुस्सा आता है !!

चाहे हमारी बात हो या न हो !!
मगर तेरे हिस्से का वक्त !!
मैंने संभाल के रखा है !!

हज़ार मुँह है दुनिया के किस-किस की सुनोगे !!
अपनी ज़िंदगी को अपनी सुनाओ !!
वरना मुँह के बल गिरोगे !!

शब्द’ और ‘सोच’ दूरियाँ बढ़ा देते हैं !!
क्योंकि कभी हम समझ नहीं पाते !!
और कभी हम समझा नहीं पाते !!

इस साल का सफर कुछ यूं गुजर गया !!
कुछ अपने अनजाने हो गए !!
कुछ अनजानों को अपनाकर गया !!

पंछी कभी बच्चों को भविष्य के लिए !!
घोसला बनाकर नहीं देते !!
वो तो बस उन्हें उड़ने की कला सिखाते हैं !!

भरोसा करते वक्त होशियार रहिये !!
क्योंकि फिटकरी और मिश्री !!
एक जैसे ही नजर आते हैं !!

अहंकार की बीमारी मदिरा जैसी है !!
स्वयं को छोड़कर सबको पता चलता है !!
कि इसको चढ़ गयी है !!

समय की कीमत अखबार से पूछो !!
जो सुबह चाय के साथ होता है !!
वही रात को रद्दी हो जाता है !!

Dil Shayari in Hindi | सच्चे दिल की शायरी

हमसे कभी पूरी न हुई तालीम तेरी ऐ जिंदगी !!
शागिर्द हम बन न सके !!
और उस्ताद तूने होने न दिया !!

अच्छा लगता है मुझे उन लोगों से बात करना !!
जो मेरे कुछ भी नहीं लगते !!
पर फिर भी मेरे बहुत कुछ है !!

तू अपनी तलाश में निकल !!
अगर,मगर ,किन्तु !!
परन्तु में करोड़ों लोग जी रहे है यहाँ !!

लोगों का कहना है कि अब मैं बदल सा गया हूँ !!
अब इन्हे क्या बताऊँ अक्सर टूटे हुए पत्ते !!
अपना रंग बदल दिया करते हैं !!

ज़िंदगी ऐसी पाठशाला है !!
जहाँ क्लास बदलती रहती है !!
परन्तु विषय नहीं बदलते !!

चोट पैर की जिस ऊँगली में लगी हो !!
ठोकर भी उसी ऊँगली में लगती है !!
यही जिंदगी है !!

किसी के बुरे वक़्त पर !!
हँसने की गलती मत करना !!
ये वक़्त है जनाब चेहरे याद रखता है !!

घर में चाहे दस कमरे हो !!
लेकिन सबसे ज़्यादा “रोनक !!
उस कमरे में होती हैं !!
जिस कमरे में “माँ” होती हैं !!

ज़िंदगी में डाली से गिरता हुआ !!
पत्ता भी हमे सिखाता है कि !!
अगर तुम बोझ बन जाओगे तो !!
अपने भी तुम्हे गिरा देंगे !!

लोग डूबते हैं तो समंदर को दोष देते हैं !!
मंजिल न मिले तो मुकद्दर को दोष देते हैं !!
खुद तो संभल कर चल नहीं सकते !!
जब ठेस लगती है तो पत्थर को दोष देते हैं !!

हम नींद में सपने देखते हैं !!
लेकिन ईश्वर हमें हर दिन नींद से जगाकर !!
अपने सपनों को !!
पूरा करने का एक मौका देते हैं !!

अपनी तो ज़िन्दगी है अजीब कहानी है !!
जिस चीज़ की चाह है वो ही बेगानी है !!
हँसते भी है तो दुनिया को हँसाने के लिए !!
वरना दुनिया डूब जाये इन आखों में इतना पानी हैं !!

शम्मा परवाने को जलना सिखाती है !!
शाम सूरज को ढलना सिखाती है !!
क्यों कोसते हो पत्थरों को जबकि !!
ठोकरें ही इंसान को चलना सिखाती हैं !!

बोली बता देती है इंसान कैसा है !!
बहस बता देती है ज्ञान कैसा है !!
घमण्ड बता देता है कितना पैसा है !!
संस्कार बता देते है परिवार कैसा है !!

जिंदगी मे जो भी हासिल करना हो !!
उसे वक्त पर हासिल करो !!
क्योंकि जिंदगी मौके कम !!
और अफसोस ज्यादा देती है !!

जिस दिन हम ये समझ जायेंगे !!
कि सामने वाला गलत नहीं है !!
सिर्फ उसकी सोच हमसे अलग है !!
उस दिन जीवन से दुःख समाप्त हो जायेंगे !!

स्पीड ब्रेकर कितना भी बड़ा हो !!
गति धीमी करने से झटका नहीं लगता !!
उसी तरह मुसीबत कितनी भी बड़ी हो !!
शांति से विचार करने पर !!
जीवन में झटके नहीं लगते !!

जो उन पे गुज़रती है !!
किस ने उसे जाना है !!
अपनी ही मुसीबत है !!
अपना ही फ़साना है !!

जब भी जिंदगी रुलाये !!
समझना गुनाह माफ़ हो गये !!
और जब भी जिंदगी हँसाये !!
समझना दुआ कबूल हो गयी !!

कोशिश कर रहा हूँ की कोई मुझसे न रूठे !!
जिंदगी में अपनों का साथ न छूटे !!
रिश्ते कोई भी हो उसे ऐसे निभाउ !!
कि उस रिश्ते की डोर जिंदगी भर न छूटे !!

ये ना पूछँना जिंदगी ख़ुशी कब देती है !!
क्योकि शिकायते तो उन्हें भी है !!
जिन्हें जिंदगी सब देती है !!
मानो तो मौज है नहीं तो समस्या तो रोज है !!

वो यारों की महफ़िल वो मुस्कराते पल !!
दिल से जुड़ा है वो बीता हुआ कल !!
उन दिनों ज़िंदगी कटती थी लम्हों को जुटाने में !!
आज ज़िंदगी कटती है कागज़ के पत्ते कमाने में !!

बस यही दो मसले जिंदगी भर ना हल हुए !!
ना नींद पूरी हुई ना ख्वाब मुकम्मल हुए !!
वक़्त ने कहा काश थोड़ा और सब्र होता !!
सब्र ने कहा काश थोड़ा और वक़्त होता !!

लफ्ज ही होते है इंसान का आईना !!
शक्ल का क्या है !!
वो तो उम्र और हालात के साथ !!
अक्सर बदल जाती है !!

झमाझम बारिश का मौसम !!
और फर्क हालातों का !!
रईस को मस्ती सूझ रही है !!
और गरीब की बस्ती डूब रही है !!

किसी ने पूछा की उम्र और जिंदगी में क्या फर्क है !!
बहुत सुंदर जवाब !!
जो अपनों के बिना बीती हो वो उम्र !!
और जो अपनों के साथ बीती हो वो जिंदगी !!

ज़िन्दगी सिर्फ मोहब्बत नहीं कुछ और भी है !!
ज़ुल्फ़-ओ-रुखसार की जन्नत नहीं कुछ और भी है !!
भूख और प्यास की मारी हुई इस दुनिया में !!
इश्क ही इक हकीकत नहीं कुछ और भी है !!

मुस्कुराने की वजह न ढूंढो !!
वरना जिंदगी यूं ही कट जायेगी !!
कभी बेवजह भी मुस्कुराकर देखो !!
आपके साथ-साथ जिंदगी भी मुस्कुराएगी !!

ज़िन्दगी कांटो का सफ़र है !!
हौसला इसकी पहचान है !!
रास्ते पर तो सभी चलते हैं !!
जो रास्ते बनाये वही तो इंसान है !!

आधे से कुछ ज्यादा है !!
पूरे से कुछ कम !!
कुछ जिंदगी ,कुछ गम !!
कुछ इश्क ,कुछ हम !!

वो समझे या ना समझे मेरे जज्बात को !!
मुझे तो मानना पड़ेगा उनकी हर बात को !!
हम तो चले जायेंगे दुनिया से एक दिन !!
मगर देख लेना वो सोंएगे अकेले हर रात को !!

न गुलफाम चाहिये न कोई सलाम चाहिये !!
मोहब्बत का बस कोई पैगाम चाहिये !!
और जिसको पीकर उड़ जायें होश हमारे !!
हमारे लफ्जो को तो ऐसा ज़ाम चाहिये !!

ख़ामोशी इकरार से कम नहीं होती !!
सादगी भी सिंगार से कम नहीं होती !!
ये तो अपना अपना नज़रिया है मेरे दोस्त !!
वर्ना दोस्ती भी प्यार से कम नहीं होती !!

जाने क्यों हमें आंसू बहाना है आता !!
जाने क्यों हाले दिल बताना नहीं आता !!
क्यों साथी बिछड़ जाते है हमसे !!
शायद हमें ही साथ निभाना नहीं आता !!

उनकी यादो को प्यार करते है !!
लाखो जनम उन पर निसार करते है !!
अगर राह में मिले वो आपसे !!
तो कहना उनसे हम आज भी !!
उनका इंतज़ार करते है !!

इस प्यार का अंदाज़ न जाने कैसा है !!
हम क्या बताये ये राज़ कैसा है !!
कौन कहता है आप चाँद जैसे हो !!
हम तो कहते हैं की चाँद खुद आप जैसा है !!

खुदासे बस आपकी ख़ुशी मांगतें हैं !!
दुआओं में आपकी हसीं मांगतें हैं !!
सोचतें हैं आपसे क्या मांगे !!
चलो आपसे उम्र भर की मोहब्बत मांगतें हैं !!

प्यार में प्यार को आज़माया नहीं जाता !!
आज़मा कर प्यार कभी पाया नहीं जाता !!
प्यार पाने के लिए विश्वास की जरुरत है !!
बिना विश्वास प्यार कभी निभाया नहीं जाता !!

सूरज वो जो दिन भर आसमान का साथ दे !!
चाँद वो जो रात भर तारों का साथ दे !!
प्यार वो जो ज़िंदगी भर साथ दे !!
और दोस्ती वो जो पल पल साथ दे !!

हमसे एक वादा करो हमे रुलाओगे नही !!
हालात जो भी हों कभी हमे भुलाओगे नही !!
अपनी आँखों में छुपा कर रखोगे हमको !!
और फिर किसी को दिखाओगे नही !!

रात गयी तो तारे चले गऐ !!
गैरों से क्या गिला जब हमारे चले गऐ !!
हम जीत सकते थे कई बाज़िया !!
बस कुछ अपनों को जीताने के लिए हम हारे चले गऐ !!

ज़िंदगी चाहे एक दिन की हो !!
या चार दिन की !!
उसे ऐसे जियो जैसे कि !!
ज़िन्दगी तुम्हें नहीं मिली !!
ज़िन्दगी को तुम मिले हो !!

मुझे घमंड नहीं किसी भी बात का !!
क्यूँकि में जानता हूँ कि एक रात !!
ज़िंदगी में ऐसी भी होगी ,जिसके !!
बाद कोई सवेरा नहीं होगा !!

हमेशा जोड़ने की कोशिश कीजिए !!
तोड़ने की नहीं !!
संसार में सुई बनकर रहें कैंची बनकर नहीं !!
सुई दो को एक कर देती है !!
और कैंची एक को दो कर देती है !!

बुलाने के इशारे भी करेगी !!
फिर जाने को भी कहेगी !!
इस दुनिया का कोई रंग नहीं !!
ये युही रंग बदलती रहेगी !!

मूर्ख व्यक्ति दूसरों को !!
बर्बाद करने की चाहत में !!
इतना अंधा हो जाता हैं कि !!
उसको खुद के बर्बाद होने का !!
पता नहीं चलता !!

गलती जिन्दगी का एक पेज है !!
पर रिश्ते जिन्दगी की किताब है !!
जरूरत पड़ने पर गलती का पेज फाड़ देना !!
पर एक पेज के लिए पूरी किताब मत खो देना !!i

ये मरीजे इश्क का हाल है !!
कि ये ज़िन्दगी भी बेहाल है !!
कभी दर्द है तो दवा नहीं जो !!
दवा मिली तो सिफ़ा नहीं !!

ज़िन्दगी में जीत उसी की होती है जो !!
हरने के बाद भी अगली लड़ाई !!
लड़ने के लिए दोबारा से दोगुने !!
जोश के साथ तैयार रहता है !!

कभी मतलब के लिए तो !!
कभी बस दिल्लगी के लिए !!
हर कोई मोहब्बत ढूंढ रहा है !!
यहां अपनी जिन्दगी के लिए !!

इश्क में हर लम्हा खुशी का एहसास बन जाता है !!
दीदार-ए-यार भी खुदा का दीदार बन जाता है !!
जब होता है नशा मोहब्बत का !!
तो अक्सर आइना भी ख्वाब बन जाता है !!

चुभ जाती हैं बातें कभी !!
तो कभी लहजे मार जाते हैं !!
यह जिंदगी है जनाब !!
यहां हम गैरों से ज्यादा !!
अपनो से हार जाते हैं !!

Rate this post

Leave a Comment

Chat now
1
Hello 👋
Can we help you?